blogid : 311 postid : 256

Funny Jokes in Hindi: सबसे बड़ी गलती

Posted On: 15 Mar, 2014 हास्य व्यंग में

  • SocialTwist Tell-a-Friend


imagesपुरानी गलतियां

लीला(शादी के बीस साल बाद) : “शादी से पहले मैं और तुम एक-दूसरे को देखने के लिए कितने बेचैन रहते थे”.

पति : “अरे छोड़ो, पुरानी गलतियों को याद करने से क्या फायदा”.

******************************************


संता बंता हिंदी जोक्स: लड़की बिकनी में


cute-puppies-6पत्नी- आज बस में कंडक्टर ने मेरी बेइज्जती की.

पति- क्यों? क्या हुआ?

पत्नी- मेरे बस से उतरते ही उसने कहा- अब तीन सवारियाँ इस सीट पर आ जाएँ.

******************************************


गले में पानी फंस गया


वफादार नौकर

मालिक ने नौकर से कहा, ” मैं बाजार जा रहा हूं तुम दुकान का ध्यान रखना, अगर कोई आर्डर दे तो उसे अच्छे से पूरा करना.”

कुछ देर के बाद मालिक आया तो उसने नौकर से पूछा, “कोई आर्डर आया?”

नौकर ने कहा, “जी हां, आया था, उसने आर्डर दिया कि दोनों हाथ ऊपर करके कोने में खड़े हो जाओ.

मैंने ऑर्डर मान लिया और वह पैसे की तिजोरी उठाकर चला गया.

******************************************

funny-pictures-ymca-catकोई दरवाजा नहीं खोलता

एक महिला ने संता को अपनी डोर-बेल ठीक करने के लिए बुलाया.

संता चार दिन तक घर नहीं आया.  महिला ने दोबारा फोन करके उसे बुलाया

संता : मैं क्या करूँ, मै पिछले चार दिन से आपके घर आ रहा हूं, घंटी बजाता हूं, लेकिन कोई दरवाजा नहीं खोलता.

******************************************

funny-catब्रेक टाइम खत्म हुआ

एक आदमी मर गया और सीधा नरक में पहुंचा.  वहां यमदूत ने उसका स्वागत किया और उसे नरक की सैर कराई.  यमदूत ने कहा कि यहां तीन तरह के नरक कक्ष हैं और उसे अपनी पसन्द का कक्ष चुनने की आजादी है.

पहला कक्ष आग की लपटों और गर्म हवाओं से इस कदर भरा हुआ था कि वहां सांस लेना भी दूभर था. आदमी ने कहा कि वह इस नरक में रहना नहीं चाहेगा.
यमदूत उसे दूसरे नरक कक्ष में ले गया . यह कक्ष सैकड़ों आदमियों से भरा हुआ था और यमदूत बेरहमी से उनकी पिटाई कर रहे थे. चारों ओर चीखपुकार का माहौल था. आदमी यह सब देखकर घबरा गया और उसने यमदूत से अगला कक्ष दिखाने की प्रार्थना की.

तीसरा और अंतिम कक्ष ऐसे लोगों से भरा हुआ था जो बस आराम कर रहे थे और कॉफी पी रहे थे. यहां अन्य दो कक्षों जैसी कष्टदायक कोई बात उसे नहीं दिखी.  उसने यमदूत से कहा कि वह इसी कक्ष में रहना चाहता है. यमदूत ने उसे उसी कक्ष में छोड़ा और चला गया.  आदमी ने एक कॉफी ली और आराम से एक तरफ बैठ गया.  कुछ मिनटों बाद लाउडस्पीकर पर एक आवाज गूंजी – ”ब्रेक टाइम खत्म हुआ. अब फिर से दस हजार घूंसे खाने के लिये तैयार हो जाओ !”

रॉंग नंबर

एक आदमी ने अपने घर फोन किया तो उधर से एक अनजान महिला की आवाज आई.

”कौन?” – आदमी ने पूछा.

”मैं घर की नौकरानी बोल रही हूं . ” – महिला ने उत्तर दिया.

”लेकिन हमारे घर में तो कोई नौकरानी नहीं है. ” – आदमी ने कहा.

”मुझे घर की मालकिन ने आज सुबह ही नौकरी पर रखा है. ” नौकरानी ने जवाब दिया.

”अच्छा ठीक है, सुनो.  इस वक्त तुम्हारी मालकिन कहां हैं ? मुझे उनसे बात करनी है. ” – आदमी ने कहा .

”वह तो बेडरूम में हैं.  अपने पति के साथ. ” – नौकरानी ने जवाब दिया.

”क्याऽऽऽ… ? पति के साथ…… ? पर उसका पति तो मैं हूं …….. ” – आदमी गुस्से से भन्ना गया.  उसने एक मिनट कुछ सोचा फिर बोला – ”हैलो ….. सुनो क्या तुम पचास हजार रूपए कमाना चाहोगी?”

”हां… .  पर मुझे करना क्या होगा ?” – नौकरानी ने पूछा .

”तुम मेरी अलमारी से बंदूक निकालो और उस कुतिया और उसके साथ जो आदमी है उसे गोली से उड़ा दो. ”

नौकरानी ने फोन नीचे रख दिया. आदमी ने पहले कदमों की और फिर दो गोलियां चलने की आवाज फोन पर सुनी.

नौकरानी ने वापस फोन उठाया और पूछा – ”अब इन लाशों का क्या करूं ?”

”उन्हें स्वीमिंग पूल में डाल दो. ” – आदमी ने कहा .

”पर आपके घर में तो स्वीमिंग पूल नहीं है. ” – नौकरानी ने जवाब दिया.

लगभग तीन-चार मिनट तक दोनों तरफ खामोशी छाई रही फिर आदमी की आवाज आई – ”क्या ये नम्बर 921142024 ही है?”


पत्नी ने कभी रेलगाड़ियों की टक्कर नहीं देखी!

इससे अजूबा कैरेक्टर देखा है कभी!



Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (18 votes, average: 3.28 out of 5)
Loading ... Loading ...

8 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

rajasthan gk के द्वारा
May 10, 2016

amazing fact about rajasthan

John के द्वारा
January 5, 2015

एक शेर अर्ज़ किया हे पढ़िए शाम दियो से सजाये बैठे है , खुशबु सांसो में बसाये बैठे है , उनकी दीवानगी तो देखो , गर्ल फ्रेंड रात को आने वाली है , और वो अभी से सिकंदर -ए-आज़म कैप्सूल खाए बैठे है .

    Hawk के द्वारा
    June 11, 2016

    Felt so hopeless looking for answers to my quteiions…untsl now.

    sonu gangwar के द्वारा
    March 25, 2015

    HELLO KAVITA ,HOW ARE YOU?

Jitendra dubey के द्वारा
March 15, 2014

सांता बनता से : तुम्हारी पत्नी का अपहरण हो गया है और उसकी एक अंगुली काटकर भेजी है . बनता सांता से : एक अगुली से कया होता है मुंडी काटकर भेजता तो मै उसे पहचानता भी .

    अभिषेक अनंत के द्वारा
    May 10, 2015

    मानव वंदना (कविता) सर्वेश्वर के अंश हो तुम ! गरल विषधारी के दंश हो तुम ! दिखते हो उसी की तरह ! कितने बड़े संत हो तुम ! कभी सुनार – बढ़ई तो कभी लोहार हो तुम ! समयानुकूल राजा और भिखर हो तुम! तुम में मुझें ईश्वर दिखते ! ईश्वर के अंशावतार हो तुम ! सत्य – संयम -ज्ञानवान , उच्च चरित्र है तुम्हारे ! संपूर्ण जगत में श्रेस्ट हो तुम , तुम से है सब हरे ! शेर दहाड़ता है , मांश भी खता है , पर तुम से डरता है , हाथी का विशाल काया भी तुम्हारे आगे पे -पे करता है ! सर्व गुण समाहित है तुम में, सम्पूर्णा जगत के सबल अधिकारी हो ! कितना धर्म – अधर्म है तुम में , समयानुकूल कर्ता बलशाली हो ! तुम अति शूक्ष्म और अतिसबल हो ! दुनिया की सारी गतिबिधिया तुम्हारे लिए गतिमान है ! हे ईश्वर के अनुपंकृति ! तुम्हारी जय हो ! तुम सबसे महान हो ! अभिषे अनंत ग्राम – मंझरिया , पोस्ट – मठिया , थाना – लौरिया , जिला -प० चंपारण (बेतिया ) बिहार -८४५४५३


topic of the week



latest from jagran