blogid : 311 postid : 533

लड़की से एक्सीडेंट

Posted On: 26 Sep, 2010 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend


baby_getting_ticket-11991जूतों की कमी

वह बोले, “महफ़िल में कहीं हमारे जूते खो गए, घर कैसे जाएंगे?”

हमने कहा, “आप शायरी तो शुरू कीजिए, इतने जूते आएंगे कि आप गिन भी नहीं पाएंगे!”

****************************

आठ बजे की फांसी

जेलर, संता सेः तुम्हें कल सुबह आठ बजे फांसी हो जाएगी.

संताः हा हा हा…

जेलरः तुम हंस क्यों रहे हो?

संताः मैं तो उठता ही सुबह नौ बजे हूं.

****************************

mouse_attacks_cat-12102लड़की से एक्सीडेंट

संता: तेरा एक्सीडेंट हुआ क्या?

बंता: : हां भाई, एक लड़की से टकरा गया था.

संता: तो क्या लड़की से टकराने भर से हाथ टूट गया.

बंता: नहीं भाई, ये तो उसके पति ने तोड़ा है!

****************************

like_father_like_son-11995रमेश: रेलवे स्टेशन चलोगे.

रिक्शे वाला: हां.

रमेश: कितने पैसे लोगे.

रिक्शे वाला: 10 रुपए,

रमेश : 2 रु. में चलोगे.

रिक्शे वाला: 2 रु. में कौन ले जाएगा.

रमेश : पीछे बैठ मैं ले कर चलता हूं.

****************************

बस-कर-अली, रहम-अली

अली के चार बच्चे हुए, अली ने उनका नाम रखा – युसुफ अली, अलताफ अली, इरफान अली और हैदर अली.

पांचवां बच्चा हुआ तो अली की बीवी ने उसका नाम रखा बस-कर-अली, रहम-अली.

| NEXT



Tags:                                         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

312 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Cheyanne के द्वारा
June 11, 2016

Belle queste mobaoodrd! Ottima scelta per gli occhiali Prada! Io non ho ancora deciso se mi piacciono o no le sneaker di Isabel Marant , lo devo ancora capire! :D Un bacio , Cristina.

Amit kr Gupta के द्वारा
October 13, 2010

वाह भई वाह


topic of the week



latest from jagran